लगातार कोशिशों से ही व्यवस्था परिवर्तन संभव है

लगातार कोशिशों से ही व्यवस्था परिवर्तन संभव है

“लोकतंत्र कमज़ोर है, वोट खरीदे जाते है, बूथ कैप्चर किये जाते है, मतगणना मे धांधली करवाई जाती है, विधायक और सांसद खरीदे जाते है, पूंजीवादी […]

Read more ›

प्रदुषण बीमारियों की जड़, सिकुड़ रहे हैं बच्चों के फेफड़े

प्रदुषण बीमारियों की जड़, सिकुड़ रहे हैं बच्चों के फेफड़े

बाल दिवस पर Journal of Indian Pediatrics की एक रिपोर्ट सामने आई है, वल्लभभाई पटेल चेस्ट इंस्टीट्यूट के पूर्व डायरेक्टर-प्रफेसर एस के छाबड़ा द्वारा की […]

Read more ›

सिगरेट से कैंसर होने के क्या सबूत है: सुप्रीम कोर्ट

सिगरेट से कैंसर होने के क्या सबूत है: सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली! सिगरेट के डिब्बों को अनाकर्षक बनाने के लिए बेरंग करने संबंधी एक याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि क्या […]

Read more ›

सिक्किम नहीं देखा तो क्या देखा?

सिक्किम नहीं देखा तो क्या देखा?

देश में खेती ने एक चक्र पूरा किया है और अब यह अपना रूप बदल रही है। यह सही है कि आधी सदी पहले देश […]

Read more ›

मरने के बाद भी होती है ज़िन्दगी : रिसर्च

मरने के बाद भी होती है ज़िन्दगी : रिसर्च

मौत के बाद इंसान कैसा महसूस करता है इस बात का पता लगाने के लिए साउथैंप्टन यूनिवर्सिटी के रिसर्च साइंटिस्ट्स की एक टीम के द्वारा 15 अस्पतालों […]

Read more ›

करोड़ों की संपत्ति छोड़ भिक्षु बने रघुनाथ दोषी

करोड़ों की संपत्ति छोड़ भिक्षु बने रघुनाथ दोषी

दो बेटों और एक बेटी के पिता तथा दिल्ली के ‘प्लास्टिक किंग’ नाम से मशहूर बिजनसमैन भंवरलाल रघुनाथ दोषी अपना 600 करोड़ रुपये के एंपायर […]

Read more ›