निर्भया जैसी बर्बरता, एकसाथ 3 गैंगरेप से हरियाणा हुआ शर्मसार

पानीपत में एक 11 साल की बच्ची के साथ ‘निर्भया’ जैसी बर्बर हैवानियत सामने आई है, हरियाणा में गैंगरेप की घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं। इसी तरह की बर्बरता जींद में भी एक नाबालिग के साथ की गई, वहीं राजधानी दिल्ली से सटे फरीदाबाद में भी कार में 22 साल की लड़की से गैंगरेप की वारदात हुई है। पानीपत में तो हैवानियत की हर पराकाष्ठा को पीछे छोड़ते हुए बच्ची के साथ बलात्कार करने के बाद उसकी हत्या की गई और फिर शव के साथ भी बलात्कार किया गया। पानीपत केस में जहां पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है, पर जींद और फरीदाबाद गैंगरेप के आरोपी अभी तक कानून की गिरफ्त से बाहर हैं। एक सप्ताह में गैंगरेप की तीन वारदातों के खट्टर सरकार के महिला सुरक्षा के दावों की कलाई खोलकर रख दी हैं, हरियाणा सरकार इन वारदातों से विपक्षी दलों के निशाने पर है।

जींद के उरलाना कलां गांव में अपने ननिहाल में रह रही 11 साल की बच्ची शनिवार की शाम तक़रीबन पांच बजे कूड़ा डालने के लिए घर से निकली थी, रास्ते में गांव के ही दो युवकों प्रदीप और सागर बच्ची को लालच देकर अपने घर ले गए और गैंगरेप किया। इसके बाद उन्होंने बच्ची की गला दबाकर हत्या कर दी, पर इस पर भी आरोपियों की हैवानियत कम नहीं हुई, उन्होंने सारी हदें पार करते हुए बच्ची के शव के साथ भी दुष्कर्म किया। गैंगरेप के बाद मृत पाई बच्ची के साथ किस हद तक बर्बरता हुई, यह डॉक्टरों की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सामने आया है।

रोहतक पीजीआई के डॉक्टर एसके दत्तरवाल के अनुसार लड़की के शव की हालत देखकर पता चलता है कि उसके साथ भयंकर यौन हमला हुआ है, तीन से चार लोग इस गैंगरेप में शामिल थे। डॉक्टर के अनुसार एक भारी और बिना धार वाले हथियार को उसके शरीर में घुसाया गया। इसके अलावा उस बच्ची को डुबोकर मारने के संकेत भी मिले हैं। दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है, पुलिस ने एक आरोपी के घर से बच्ची के जले हुए कपड़े के बचे हिस्से और चप्पल बरामद की। पुलिस ने मामले की जांच के लिए SIT के गठन का ऐलान किया है।

पीड़िता के पिता ने कहा कि मेरी बेटी के अपहरण, बलात्कार और हत्या के दोषियों को जल्द से जल्द और सख्त से सख्त सज़ा मिलनी चाहिए, हम उसके लिए न्याय चाहते हैं। उन्होंने कहा कि प्रशासन इस प्रकरण में अगर तेज़ी से कार्रवाई करता है तो भविष्य में इस तरह की घटनाओं को रोका जा सकता है।

जींद और पानीपत की घटना के बाद रविवार को दिल्ली से सटे फरीदाबाद में भी गैंगरेप का मामला सामने आया, जहाँ एक 22 साल की लड़की को तीन लोगों ने अगवा कर कार में गैंगरेप किया। फरीदाबाद क्राइम ब्रांच के एसीपी ने बताया कि लड़की के सिर और शरीर पर चोट के निशान पाए गए हैं। गैंगरेप के बाद आरोपी लड़की को सीकरी के पेट्रोल पंप के पास छोड़कर भाग गए। एक सप्ताह में गैंगरेप की तीन वारदात बताती हैं कि अपराधियों के हौसले बुलंद हैं, विपक्षी दल खट्टर सरकार पर निशाना साध रहे हैं, कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं। हालाँकि मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply